अब पत्रकार बनेगी सोनाक्षी सिन्हा - PICTURE PLUS Film Magazine पिक्चर प्लस फिल्म पत्रिका

नवीनतम

गुरुवार, 13 अक्तूबर 2016

अब पत्रकार बनेगी सोनाक्षी सिन्हा

अक्षय कुमार ने सोनाक्षी से अकीरा में काम करने के लिए कहा था। अकीरा के बाद फॉर्स टू’ भी सोनाक्षी की स्टंट फिल्म होगी। इन फिल्मों को  लेकर सोनाक्षी  बहुत उत्साहित हैं। कुमकुम श्रीवास्तव ने सोनाक्षी सिन्हा से बातचीत की:-



जब यह एक्शन फिल्म आपको ऑफर हुई तो आपका क्या रिएक्शन था?
-मैंने मुरुगादौस सर के साथ फिल्म हॉलीडे की थी। वह बेहतरीन निर्देशक हैं  मैं सरप्राइज थी कि वह मुझे इस फिल्म में लेना चाहते थे। मैंने उनसे पूछा भी क्या आप सचमुच चाहते हैं कि मैं ये फिल्म करूं? उन्होंने जवाब में कहा ‘हांऔर फिर काह कि मैं जानता हूं कि आप बहुत अच्छा कर सकती हो। मैं उनके भरोसे  की शुक्रगुजार हूं कि उन्होंने मुझे ये मौका दिया। मुरुगादौस अब तक अपनी फिल्मों में कई बड़े एक्शन हीरो को निर्देशित कर चुके हैं। इस बार मुझे विर्देशित किया, यह बात खुशी देती है।
यह फिल्म साउथ फिल्म का रीमेक है उससे  कितनी लग  होगी आपकी अकीरा? 
हां अकीरा 2011 में आई तमिल फिल्म मौना गुरू का हिंदी वर्जन है। फिल्म में हिंदी फिल्मों के मसालों को ध्यान में रखकर बनायी गयी है। इसके अलावा दोनों फिल्मों में एक सबसे बड़ा अंतर यह है कि मूल फिल्म की कहानी जहां नायक के इर्द-गिर्द घूमती है वहीं अकीरा एक नायिका प्रधान फिल्म है। इस फिल्म की कहानी पूरी तरह से अकीरा पर है। इसमे कोई नायक नहीं है। हां, कोंकणा और अनुराग सर का ट्रैक अहम है। यह अकीरा से जुड़े हैं। 
एक्शन सीन परफॉर्म करना कितना मुश्किल रहा?
परदे पर जो एक्शन दिख रहा है, यह आसान नहीं था लेकिन ज़्यादा मुश्किल भी नहीं हुई क्योंकि मै स्कूल कॉलेज के दिनों में एथलीट रही थी। हां, इस फिल्म के लिए मैंने तीन महीने पहले ट्रेनिंग ली थी। खास बात यह है कि इस फिल्म के स्टंट डायरेक्टर दबंग, राउडी राठौड़ और हॉलिडे में मेरे हीरोज को निर्देशित कर चुके थे और इस फिल्म में वह मुझे स्टंट सीखा रहे थे। इस फिल्म का एक्शन रॉ है। रस्टिंक है। चेसिंग और  काम्बेट अंदाज़ में है। जिसके लिए बहुत सारा पसीना और थोड़ा खून भी बहाना पड़ा। 

क्या चोटें भी आई थीं? 
हां, बहुत चोटें आयी थीं। शूटिंग के बाद जब सुबह उठती तो कहीं न कहीं दर्द या जख्म ज़रूर रहता था। हां,  तीन चोट बड़ी लगी थी। कलाई में चोट आ गयी थी। हाथ सीधा नहीं कर सकती थी। केबल एक्शन में घुटने चोटिल हुए थे। पीठ में भी चोट लगी थी। वो भी बहुत दर्दनाक था। 
घरवालों को  क्या रिएक्शन था आपकी इस पहली एक्शन फिल्म पर? 
 मैं खुश् हूं तो मेरे मम्मी पापा भी बहुत खुश ही होंगे। थोड़ा ख्याल रखने को कहा था। उन्हें फिल्म की कहानी बहुत पसंद आयी उन्हें स्टोरी ग्रिपिंग लगी। एक अकेली लड़की के संघर्ष की कहानी है। जो बुराई के खिलाफ खड़ी होती है।
स्कूल या कॉलेज के दिनों में कभी मारधाड़ किया था क्या?
मैं स्कूल कॉलेज के दिनों से ही ऐसी थी। लोग देखकर ही डर जाते थे। दूर ही रहते थे। तय कर रखा था जाना ही नहीं है इसके पास। ऐसे में मारधाड़ करने का कभी मौका ही नहीं मिला।
इस फिल्म में अनुराग एक्टिंग कर रहे हैं , अनुराग कश्यप के साथ काम करने का अनुभव कैसा रहा?
यादगार , मज़ेदार कमाल का था पूरा अनुभव। फिल्म में  आप उनका अभिनय देखोंगे चौंक जाओगे। वह पूरी तरह से फिट थे अपने रोल में। परफेक्ट रहे हैं अपने किरदार में। उनसे बेहतर कोई उस किरदार को नहीं कर सकता था। मैं तो उनकी एक्टिंग से इतनी इम्प्रेस हुई कि मैंने तो उनको कह दिया कि आपको अब एक्टिंग ही करनी चाहिए  निर्देशन से ब्रेक ले लीजिए।
अकीरा में, जैसा कि आपने कहा कि नायक नहीं है तो कहीं न कहीं इस फिल्म की सफलता का पूरा दारोमदार आपके ऊपर ही जाता है?
फिल्म में मेरे साथ भले ही कोई हीरो नहीं है लेकिन फिल्म में अनुराग और कोंकोणा का ट्रैक भी बहुत अहम है। हां, यह एक महिला केंद्रित फिल्म है। अपने अब तक के कैरियर में मैंने एक भी महिला केंद्रित फिल्म नहीं की है। ऊपर से यह एक्शन फिल्म है। जिसका चेहरा मैं हूं तो ये बात मुझे अमेजिंग फीलिंग देती है। मैं नर्वस नहीं हूं।  मैं ऐसे ऑफर का इंतजार कर रही थी। मैं इसी के लिए फिल्म इंडस्ट्री में आयी हूं। यह फिल्म कहीं न कहीं लड़कियों को खुद की सुरक्षा करने के लिए प्रेरित करती है। स्कूल कॉलेज में मार्शल आर्ट बहुत ही एंग एज में शामिल करना चाहिए। 
इंडस्ट्री  में आप किस एक्शन हीरो के स्टंट को पसंद करती हैं?
इस बात का मैं डिप्लोमेटिक जवाब दे सकती हूं। दबंग सलमान, राउडी अक्षय, सरदार अजय अपने अब तक के कैरियर में मैंने इन लोगों के साथ ही काम किया है। ये तीनों एक्शन में माहिर हैं। मुझे मजा आता है एक्शन फिल्म करने में। इस बार तो मैं एक्शन सीन परफॉर्म कर रही हूं। मेरे लिए इससे अच्छा क्या हो सकता है।
मार्शल आर्टस में अक्षय को महारत हासिल है क्या उन्होंने आपको इस फिल्म की शूटिंग्स पहले कोई टिप्स भी दी थी?
हा, फिल्म की शूटिंग शुरू होने से पहले उन्होंने मुझे कहा था कि चोट से बचकर रखना, थोड़ा ध्यान देना। वैसे  उन्हें देखने से ही बहुत कुछ सीखने को मिलता है। मैंने अब तक उनके साथ जो भी फिल्में की है उनमें उनसे काफी कुछ सीखा था। वैसे इस फिल्म की रिलीज़ का उनको भी बेसब्री से इंतज़ार है। मैंने  यह फिल्म शुरू भी नहीं की थी, उन्होंने मुझसे कहा था कि यह फिल्म आंख बंदके कर ले। यह तुम्हारे कैरियर के लिए गेम चेंजर फिल्म बनेगी।
डेढ़ साल के अंतराल के बाद आपकी कोई फिल्म रिलीज़ होगी, क्या वजह थी जो इतना लंबा गैप हुआ?

मैं घर पर बैठी नहीं थी। डेढ़ सालों में पूरी तरह से सुपर बिजी रही हुई हूं। अकीरा की शूटिंग की, फ़ोर्स टू किया। इंडियन आइडल का हिस्सा बनी थी। अपना एक सिंगल गीत भी लेकर आई थी। मेरा काम फिल्म में एक्टिंग करना है। अब वह निर्माता पर है कि वह फिल्म को कब रिलीज़ करते हैं।


एक्शन फिल्मों के ज़रिये क्या आप अपनी  इमेज बदलना चाहती है?
इमेज बदलना नहीं चाहती हूं हां, अपने दर्शकों को चौंकाना चाहती हूं कि मैं परदे पर सिर्फ डांस रोमांस ही नहीं बल्कि एक्शन में भी सहज हूं। अब तक परदे पर मेरी इमेज गर्ल नेक्स्ट डोर की रही है। अब मुझे मेरे दर्शक एक के बाद एक फिल्म में एक्शन करते दिखेंगे तो दर्शक निश्चित तौर पर हैरत में पड़ जायेंगे। एक एक्ट्रेस के तौर पर  अलग किरदार निभाना चाहती हूं।
इन दिनों इंडस्ट्री में परिणिति चोपड़ा और भूमि पेंडेकर सहित कई अभिनेत्रियों में छरहरी होने को लेकर होड़ मची हुई है क्या आप भी भविष्य में छरहरी नज़र आने की तैयारी है?
मैं हमेशा से एक कर्वसियश महिला रही हूं और मैं इसे खोना नहीं चाहती। ये मेरे लिए कुछ ऐसा है जिसकी वजह से मेरी अलग पहचान है, और कोई भी अपनी पहचान नहीं खोना चाहेगा। मुझे लगता है कि मौजूदा दौर में मैं शायद एकमात्र ऐसी अभिनेत्री हूं जो छरहरी दिखने की दौड़ में शामिल नहीं है। इंडस्ट्री में क्या ट्रेंड हैं, मुझे बिल्कुल फर्क नहीं पड़ता कि लोग मेरे बारे में क्या सोचते हैं, मेरे लिए यह जरूरी हैं कि मैं क्या चाहती हूं। मैं फैशन के इस दौर में कर्वसियश लड़कियों को बढ़ते हुए देखना चाहती हूं और समाज के लिए एक मिसाल बनना चाहती हूं। मैं हमेशा अपनी शैली और फैशन से जुड़े रहना चाहती हूं। जिस पर मुझे भरोसा है। हां, फिटनेस मेरी प्राथमिकता है इसलिए हेल्थी रहना चाहती हूं। 
इन दिनों हॉलीवुड फिल्मों में बॉलीवुड अभिनेत्रियों की शिरकत बढ़ती जा रही है। हॉलीवुड को लेकर आपकी क्या प्लानिंग है?
हॉलीवुड के बारे में सच कहूं तो अब तक कुछ सोचा नहीं है। अगर अच्छा ऑफर मिलेगा तो क्यों नहीं करुंगी। अभिनेता देव पटेल को हॉलीवुड फिल्मों में बहुत ही अच्छे और अलग रोल मिलते हैं। अगर वैसा रोल मिले तो जरूर करूंगी। आख़िरकार मैं एक्ट्रेस हूं और अच्छा काम करना चाहती हूं।
आपकी आनेवाली फिल्में कौन कौन सी हैं?
अकीरा के बाद फॉर्स टू आएगी। हाल ही में नूर फिल्म की शूटिंग शुरू कर चुकी हूं। इस फिल्म में एक जर्नलिस्ट की भूमिका में दिखूंगी। एक बार फिर अलग तरह की फिल्म और किरदार।  यह फिल्म पाकिस्तानी उपन्यास कराची, यू आर किलिंग मी’’ पर आधारित है।
(पिक्चर प्लस जुलाई -अगस्त 2016 से साभार)                                           ---

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Bottom Ad