सुपर 30 के आनंद कुमार के किरदार में कैसे लगेंगे ऋतिक रोशन ? - PICTURE PLUS Film Magazine पिक्चर प्लस फिल्म पत्रिका

नवीनतम

सोमवार, 25 सितंबर 2017

सुपर 30 के आनंद कुमार के किरदार में कैसे लगेंगे ऋतिक रोशन ?

विकास बहल के लिए यह ऑस्कर का अवसर है!

आनंद कुमार की भूमिका निभायेंगे ऋतिक रोशन

क्वीन जैसी फिल्म का सफलतापूर्वक निर्देशन कर चुके विकास बहल की महत्वाकांक्षी फिल्म सुपर 30’ फिर सुर्खियों में गई है। जानकारी यह मिल रही है कि ऋतिक रोशन ने विकास बहल के प्रस्ताव को स्वीकार करते हुये आनंद कुमार के किरदार को निभाना स्वीकार कर लिया है। विकास बहल ने काफी समय पहले ही ऋतिक रोशन को इस किरकार को निभाने का ऑफर दिया था लेकिन संभवत: तारीखों की समस्या के चलते ऋतिक इसके लिए हां नहीं कर पा रहे थे।


ऋतिक ने सुपर 30 के लिए कर दी हां’!
फिल्म बेवसाइट SpotboyE.com के मुताबिक ऋतिक रोशन ने पटना के गणितज्ञ आनंद कुमार की भूमिका के लिए विकास बहल की फिल्म में काम करने की सहमति दे दी है। ऐसा लगता है कि विकास और ऋतिक के बीच किसी तथ्य को लेकर गलतफहमी हो गई थी कि जोकि आखिरकार साफ हो गई है।

पिछले दिनों ऋतिक रोशन और आनंद कुमार की हो चुकी है भेंट 
आनंद कुमार को ऋतिक रोशन पसंद है  
इस तथ्य की पुष्टि उस बात से भी हो जाती है कि गणितज्ञ आनंद कुमार ने एक प्रमुख अखबार से बातचीत में कहा है कि "मुझे खुश है कि ऋतिक रोशन मेरे किरदार को निभायेंगे। क्योंकि वही इस भूमिका के लिए सर्वश्रेष्ठ विकल्प हैं।आनंद कुमार ने यह भी कहा कि-अपने काम के प्रति उनका समर्पण और उनकी बहुमुखी प्रतिभा बहुत प्रेरणादायक रही है। मुझे लगता है कि वह स्क्रीन पर मेरे जीवन में भावनात्मक गहराई को अच्छी तरह से निभा सकेंगे। मैं ऋतिक को आनन्दपूर्ण यात्रा के लिए आनंद कुमार के रूप में देखने के लिए उत्साहित हूं।"
वाकया कुछ ही दिन पहले का है, जब आनंद कुमार और ऋतिक रोशन की मुलाकात की तस्वीरें भी मीडिया में सुर्खियां बनी थीं। हाल ही में कौन बनेगा करोड़पति के सेट पर भी आनंद कुमार नजर आये।

निर्माता-निर्देशक विकास बहल
विकास के लिए यह ऑस्कर का अवसर है!
सुपर 30 के आनंद कुमार पर फिल्म बनना मामूली घटना नहीं होगी। सबकुछ निर्भर इस बात पर करता है कि विकास बहल इस फिल्म की मेकिंग को एक विशिष्ठ घटना की तरह अंजाम देते हैं। सवाल होगा कि क्या आनंद कुमार के किरदार में स्टालिश बॉडी और माइकल डांस के तड़के की रत्ती भर भी गुंजाइश रहेगी? क्या इसमें प्रेम कहानी फोकस में होगी या आनंद कुमार के संघर्ष और उसके लक्ष्य को ही तवज्जो दिया जायेगा? विकास बहल के लिए यह एक अच्छा मौका है। ऑस्कर के लायक यह एक मौलिक कहानी है। विकास अगर इसे मसाला मूवी शैली से अलग हटकर बनाते हैं तो निश्चय ही सुपर 30 के आनंद कुमार पर आधारित यह एक सुप्रीम फिल्म होगी।
कौन हैं आनंद कुमार?   
गौरतलब है कि साल 2002 में पटना के आनंद कुमार ने सुपर 30 की संस्थापना की। पहले साल में कुल 30 बच्चों में 18 बच्चों ने इंजीनियरिंग की प्रवेश परीक्षा उत्तीर्ण कर ली। जिसके बाद के सालों में 22 और फिर 28 बच्चे जब यहां से उत्तीर्ण हो गये तो सुपर 30 का नाम सुर्खियों में गया। आनंद कुमार का प्रारंभिक जीवन काफी कष्टमय रहा है। गरीब छात्रों को पढ़ाना और उन्हें जीवन में बेहतर अवसर पाने के लिए सुगम रास्ता दिखाना उनका मकसद रहा है। इसी मकसद से उन्होंने सुपर 30 कोचिंग इंस्टीट्यूट की स्थापना की। इस संस्थान में प्रेवश पाने वाले छात्र आज देश विदेश में अपने अपने कैरियर में उच्च स्थान पर आसीन हैं। सुपर 30 के छात्र जीवन की रेस में कभी असफल नहीं हुये। यह रिकॉर्ड ही आनंद कुमार की मेहनत और पहल को देश में सबसे खास और अव्वल बनाता है।
-संजीव श्रीवास्तव (Email:pictureplus2016@gmail.com)

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Bottom Ad