शत्रुघ्न सिन्हा को आशंका है कि अनुपम खेर FTII को पूरा समय दे सकेंगे! - PICTURE PLUS Film Magazine पिक्चर प्लस फिल्म पत्रिका

नवीनतम

मंगलवार, 17 अक्तूबर 2017

शत्रुघ्न सिन्हा को आशंका है कि अनुपम खेर FTII को पूरा समय दे सकेंगे!

FTII की विरासत को बचाना खेर की सबसे बड़ी जिम्मेदारी-सिन्हा


अनुपम खेर को FTII को नया चेयरमैन तो बना दिया गया लेकिन मामला पूरी तरह से थमता नहीं दिख रहा है। बीजेपी के ही एक वरिष्ठ नेता और फिल्म अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा का मानना है कि खेर भले ही काबिल अभिनेता हों लेकिन FTII  को  पूरा समय दे पायेंगे, इसमें जरा संदेह है।


DNA से एक बातचीत में शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा है कि "अनुपम इस काम के लिए बहुत ही योग्य हैं। अनुपम को सिनेमा की समझ है, वह एक सक्षम अभिनेता भी हैं लेकिन सवाल है कि क्या वो FTII के कामकाज में पर्याप्त समय दे सकेंगे?” शत्रुघ्न सिन्हा आगे कहते हैं कि अनुपम को बहुत ही कठिन काम मिला है? क्योंकि FTII परिसर में राजनीति बहुत जटिल और संवेदनशील हो गई है।"

आपको बता दें कि बिहारी बाबू शत्रुघ्न सिन्हा को FTII के चेयरमैन पद के लिए दो बार विशेष तौर पर ऑफर किया गया था। इस तथ्य की उन्होंने खुद भी तसदीक की। उनका कहना है किहां, यह सही है कि मुझे ऑफर किया गया था। लेकिन मैं जिम्मेदारी नहीं ले पा रहा था क्योंकि ईमानदारी से मेरा मानना है कि FTII की जिम्मेदारी एक पूर्णकालिक कार्य है। एक बार जब मुझे यह ऑफर किया गया तो मैंने विनोद खन्ना के नाम की सिफारिश की थी।"
                                        

सिन्हा FTII के बारे में कहते हैं कि यह उनके घर की तरह रहा है-"यह वो जगह है जहां मैंने अभिनय के बारे में सब कुछ जाना। मैंने बाद में भी हमेशा FTII से संपर्क बनाये रखा। सालों बाद जब भी मैं पुणे जाता हूं, मैं संस्थान जरूर जाता हूं। यहां नहीं जाने पर ऐसा लगता है जैसे मैं पटना गया और अपने पैतृक निवास पर नहीं गया"।
शत्रुघ्न सिन्हा आगे कहते हैं FTII  में अब बहुत सुधार की जरूरत है। उन्होंने कहा कि संस्थान की गरिमामयी विरासत पुन: बहाल करने के लिए अनुपम खेर को उनका पूर्ण और बिना शर्त समर्थन है।


हालांकि इससे पहले अनुपम खेर फिल्म सेंसर बोर्ड तथा नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा (दिल्ली) के भी अध्यक्ष पद पर रह चुके हैं। लेकिन अब सवाल यह है कि अनुपम खेर क्या वाकई FTII पूरा समय दे सकेंगे? शत्रुघ्न सिन्हा की मानें को इस संस्थान की विरासत को तभी बचाया जा सकता है जब कोई चेयरमैन यहां समर्पित भाव से अपनी सेवा देगा। गौरतलब है कि अनुपम खेर ने कार्यभार संभालने के बाद छात्रों से वार्ता की बात कही है और संस्थान के काम काज को वापस पटरी पर लाने का भी ऐलान किया है। लेकिन अनुपम खेर के पास हाल के दिनों में केवल FTII के चेयरमैन का ही पद नहीं है वो झारखंड फिल्म विकास निगम के भी अध्यक्ष हैं और वो एक्टर प्रिपेयर्सनाम से एक एक्टिंग स्कूल भी चलाते हैं। इसके अलावा उनके हिस्से में कुछ आने वाली फिल्में भी हैं  जिनमें सबसे अहम पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह के जीवन पर आधारित बन रही बायोपिक फिल्म एन एक्सीडेंटल प्राइममिनिस्टर है जो कि अगले साल रिलीज प्रस्तावित है। जाहिर है कि शत्रुघ्न सिन्हा की आशंका निर्मूल नहीं है कि अनुपम खेर FTII को अपना पूरा समय समर्पित कर सकेंगे।

-संजीव श्रीवास्तव (Email : pictureplus2016@gmail.com)

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Bottom Ad