ये 'जीनियस' अभी है जूनियर ; 'उत्कर्ष' का यही है निष्कर्ष - PICTURE PLUS Film Magazine पिक्चर प्लस फिल्म पत्रिका

नवीनतम

शनिवार, 25 अगस्त 2018

ये 'जीनियस' अभी है जूनियर ; 'उत्कर्ष' का यही है निष्कर्ष


फिल्म समीक्षा
जीनियस
निर्देशक - अनिल शर्मा
कलाकार - उत्कर्ष शर्मा, इशिता चौहान, नवाजुद्दीन सिद्दीकी, मिथुन चक्रवर्ती आदि।


*रवींद्र त्रिपाठी
गदर : एक प्रेम कथा के लिए चर्चित रहे निर्देशक अनिल शर्मा ने अपने बेटे उत्कर्ष शर्मा को हिंदी फिल्मों का सुपरहीरो बनाने के मकसद से `जीनियसनाम की जो फिल्म बनाई है वो एक असफल प्रयोग साबित हो सकती है। अनिल शर्मा ने अपने बेटे को कलयुग में भगवान कृष्ण जैसा पेश करने की कोशिश है। वो कृष्ण जो रासलीला भी करते थे और महाभारत के युद्ध का संचालन भी करते थे।
फिल्म की कहानी
आकस्मिक नहीं कि उत्कर्ष ने इस फिल्म में वासुदेव ऊर्फ वासु नाम के युवा की भूमिका है। यहां याद रखने की बात है कि कृष्ण का एक नाम वासुदेव भी था। कृष्ण से वासु नाम के इस फिल्मी चरित्र का सिर्फ यही साम्य है। वासु भी मथुरा का है। यानी ब्रजवाशी। वासु संस्कृत के श्लोक फटाफट याद कर लेता है। यानी परम ज्ञानी है।
पर सीधे सीधे तो कह नहीं सकते बेटा उत्कर्ष शर्मा फिल्मी पर्दे पर कृष्णावतार है। इसलिए आज के समय की कहानी के सांचे में ढालकर अनिल शर्मा ने उनको पेश किया है। वासु (यानी उत्कर्ष) पढने में होशियार है और आईआईटी में आ चुका है। वहीं नंदिनी (इशिता चौहान) नाम की लड़की से उसका इश्क भी होता है। लेकिन एकतरफा। वासु की प्रतिभा पर `रॉ नाम की भारतीय गुप्तचर संस्था की नजर पड़ती है। खासकर उसकी कंप्यूटर दक्षता पर। वासु `रॉ के लिए काम करने लगता है। फिर उसे वो भारत को तबाह करने का मंसूबा पाले खलनायक `एमआरएस (नवाजुद्दीन सिद्दिकी) को भी शिकस्त देनी है। इसके लिए वह कई तरह के कारनामे करता है। अपने घायल पैरों से भी खलनायकों की गाड़ी का पीछा करता है। वगैरह वगैरह।
निर्देशन और अभिनय
कुछ पिता अपने बेटे पर महत्वाकांक्षाओं को इस कदर लाद देते हैं कि वह उनके बोझ तले दब जाता है। `जीनियस फिल्म और उत्कर्ष शर्मा के साथ यही होता है। अनिल शर्मा अपने बेटे को रोमांटिक हीरो के रूप में भी पेश करना चाहते हैं और एक्शन मैन सह कंप्यूटर विजार्ड की तरह भी। यानी सलमान खान भी और अल्बर्ट आईंस्टाइन भी। सोचिए, सलमान को आइंस्टाइऩ की भूमिका देंगे तो क्या होगा? वही हुआ है।
*लेखक प्रख्यात कला मर्मज्ञ और फिल्म समीक्षक हैं।
दिल्ली में निवास। संपर्क- 9873196343  

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Post Bottom Ad